पूजा के समय क्यों जलाते हैं अगरबत्ती

अगरबत्ती एक ऐसी चीज़ है जिसका प्रयोग सभी धर्मों के लोग अपनी पूजा में करते हैं। कहते हैं पूजा में इस्तेमाल होने वाली हर चीज़ का अलग महत्व होता है। पूजा के दौरान आमतौर पर हर घर में अगरबत्ती, धूपबत्ती व दीपक जलाए जाते हैं। पर क्या कभी आपने सोचा है कि पूजा के दौरान अगरबत्ती क्यों जलाई जाती है?

इसका एक बहुत बड़ा कारण है कि अगरबत्ती का धुआं घर से नकारात्मक शक्तियों और ऊर्जाओं को खत्म कर देता है। अगरबत्ती का धुआँ घर की सकारात्मक्ता में वृद्धि करता है और नकारात्मकता को दूर करता है।  इससे घर में आनंददायक वातावरण बना रहता है।

इसके धुएं से वातावरण शुद्ध और पवित्र हो जाता है। अगरबत्ती के धुएं से घर में मौजूद जीवाणु मर जाते हैं जिससे बीमारियों के फैलने की सम्भावना कम हो जाती है। इसलिए कई घरों में सुबह-शाम भगवान के सामने अगरबत्ती जलाई जाती है।

यह भी कहा जाता है कि इसकी हल्की और मीठी सुंगध इंसान के मन को शांत करती है इसलिए इसका प्रयोग प्राकृतिक चिकित्सा में भी होता है।

अगरबत्ती हमारे दिमाग पर स्वास्थ्यप्रद और आरामदायक प्रभाव डालती है। अगरबत्ती की खुशबू हमारे दिमाग को शांत करती है और हमें तनावमुक्त कर देती है।

भगवान की भक्ति के समय ज़रूरी है कि हम एकाग्रचित्त होकर भक्ति में पूरा ध्यान लगाएं। अगरबत्ती हमारी एकाग्रता को बढ़ाने में बेहद सहायक होती है।

ज़ेड ब्लैक, भारत के प्रमुख अगरबत्ती व्यवसाय के निर्माताओं और होलसेल विक्रेताओं में से एक है, जो उच्च गुणवत्ता वाली सामग्री से बनी, असाधारण सुगंधों वाली विशिष्ट अगरबत्ती बनाते हैं । ये अगरबत्तियाँ एकाग्रता बढ़ने में मदद करती हैं,  क्रोध पर अंकुश लगाती हैं, आत्मविश्वास बढ़ाती हैं और सकारात्मक ऊर्जा का संचार करती हैं। वे विभिन्न सुगंधों की अगरबत्ती, धूपबत्ती इत्यादि की आपूर्ति करते हैं। इनके उत्पादों की श्रृंखला में धूप, धूपकोन, धूप स्टिक, रूम फ्रेशनर, वेपोराइज़र/अरोमा  ऑइल और कई तरह की पूजन सामग्री भी सम्मिलित है। ज़ेड ब्लैक

भारत के विभिन्न हिस्सों में अपने उत्पादों का निर्माण, डिस्ट्रीब्यूटर्स को वितरण और निर्यात करते समय सभी गुणवत्ता दिशानिर्देशों का पालन करता है।


Leave a Comments

avatar
  Subscribe  
Notify of